हिंदी शायरी स्टेटस – न गुल खिले हैं

न गुल खिले हैं न उन से मिले न मय पी है;
अजीब रंग में अब के बहार गुज़री है।








Updated: April 20, 2017 — 2:33 pm

Leave a Reply

Hindi Shayari - रोमांटिक, दर्द भरी और प्रेरक शायरी © 2017