2 Line Mein Shayari – तेरा भी कसूर नहीं है

तेरा भी कसूर नहीं है मेरी तक़दीर !!
ग़र वो बेवफ़ा न होता..
हमें भी वफ़ा की इतनी कद्र कहाँ थी…








Updated: April 18, 2017 — 5:30 pm

Leave a Reply

Hindi Shayari - रोमांटिक, दर्द भरी और प्रेरक शायरी © 2017