2 Line Mein Shayari – नफरतों को जलाओ

नफरतों को जलाओ मुहब्बत की रौशनी होगी,
इंसान तो जब भी जले राख ही हुऐ








Updated: April 17, 2017 — 5:20 pm

Leave a Reply

Hindi Shayari - रोमांटिक, दर्द भरी और प्रेरक शायरी © 2017