Best Shair 2 Line Mein – फ़ुरसत-ए-कार फ़क़त

फ़ुरसत-ए-कार फ़क़त चार घड़ी है यारो;
ये न सोचो के अभी उम्र पड़ी है यारो;








Updated: April 20, 2017 — 3:58 pm

Leave a Reply

Hindi Shayari - रोमांटिक, दर्द भरी और प्रेरक शायरी © 2017