Latest Hindi Shayari 2017 – उसी का शहर वो ही

उसी का शहर वो ही खुदा और वहीं के गवाह,
मुझे यकीन था कुसूर मेरा ही निकलेगा








Updated: April 17, 2017 — 3:17 pm

Leave a Reply

Hindi Shayari - रोमांटिक, दर्द भरी और प्रेरक शायरी © 2017