loading…


Latest Hindi Shayari 2017 – बेअदबी नीम की नहीं कि वो कडवा है

बेअदबी नीम की नहीं कि वो कडवा है,
खुदगर्जी जीभ की है जिसे मीठा पसंद है बेअदबी नीम की नहीं कि वो कडवा है,
खुदगर्जी जीभ की है जिसे मीठा पसंद है




loading…





Updated: April 11, 2017 — 4:33 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *




Hindi Shayari - रोमांटिक, दर्द भरी और प्रेरक शायरी © 2017