New Latest Shairo Shayari 2 Lines – नेकियां कम पड रहीं थी

नेकियां कम पड रहीं थी नामा ऐ आमाल मे,
शुक्र है कि दुश्मनों की गालियां काम आ गईं








Updated: April 17, 2017 — 4:25 pm

Leave a Reply

Hindi Shayari - रोमांटिक, दर्द भरी और प्रेरक शायरी © 2017