New Poetry Two Lines – तुझे चाहना तो जैसे गुनाह हो गया

तुझे चाहना तो जैसे गुनाह हो गया
हर शख्स पूछता है तेरे हिस्से में कितनी वफा आई








Updated: April 17, 2017 — 4:48 pm

Leave a Reply

Hindi Shayari - रोमांटिक, दर्द भरी और प्रेरक शायरी © 2017