New Poetry Two Lines – न कर अपने दर्द ए दिल

न कर अपने दर्द-ए-दिल की नुमाइश शायरी मैं बयान
लोग और टूट जाते हैं हर लफ्ज को अपनी दास्तान समझ कर








Updated: April 17, 2017 — 4:46 pm

Leave a Reply

Hindi Shayari - रोमांटिक, दर्द भरी और प्रेरक शायरी © 2017