व्हाट्सएप्प हिंदी शायरी – अपनी बाहों में

अपनी बाहों में ले के सोता हूँ,
मैंने तकिये का नाम तुम रखा है


Leave a Reply

Your email address will not be published.