व्हाट्सएप्प हिंदी शायरी – देखे थे सपने बहोत से

देखे थे सपने बहोत से,
यकीन नहीं होता की सब पल में टूट गए


Leave a Reply

Your email address will not be published.