शायरी २ लाइन में – सोचते तो हर लोग है यहाँ

सोचते तो हर लोग है यहाँ,
बस कोई सही सोच लेता है और कोई गलत


Leave a Reply

Your email address will not be published.