हिंदी के शेर दो लाइन में – क़त्ल तो मेरा उसकी निगाहों ने

क़त्ल तो मेरा उसकी निगाहों ने ही किया था,
पर संविधान ने उन्हें हथियार मानने से इंकार कर दिया


Leave a Reply

Your email address will not be published.