हिंदी पोएट्री २ लाइन में – वो भी फुरसत में

वो भी फुरसत में बैठकर अकसर सोचती तो होगी,
की कितनी सिद्दत से मोहब्बत करता था कोई


Leave a Reply

Your email address will not be published.