हिंदी शायरी – वो बिछड़ा तो ऐसा लगा

वो बिछड़ा तो ऐसा लगा,
जैसे मन्नत का धागा टूट गया


Leave a Reply

Your email address will not be published.