हिंदी शेरो शायरी – एक बार और उलझना है

एक बार और उलझना है तुमसे,
बहुत कुछ सुलझाने के लिये


Leave a Reply

Your email address will not be published.