हिंदी शेरो शायरी – खो गई है मेरे महबूब

खो गई है मेरे महबूब के चेहरे की चमक,
कोई आज निकले, इस चाँद की तलाशी ले