हिंदी शेरो शायरी – तेरी याद भी देश में

तेरी याद भी देश में दुश्मनों की तरह है,
कहीं न कहीं से चली आती है मुझे रुलाने के लिए


Leave a Reply

Your email address will not be published.