हिंदी शेरो शायरी – मेरी बंदगी में ही कुछ

मेरी बंदगी में ही कुछ कमी है ए ख़ुदा,
वरना तेरा दर तो रहमतो का खजाना है


Leave a Reply

Your email address will not be published.