Hindi Shayri 2 Line Mein – सूखे होंठो से ही होती हें

सूखे होंठो से ही होती हें
मीठी बांते

प्यास बुझ जाये तो अलफ़ाज और
इंसान दोनो बदल जाते हे


Leave a Reply