New 2 Line Poetry – बहुत दर्द छुपे है

बहुत दर्द छुपे है रात के हर पहलू में,
अच्छा हो कि कुछ देर के लिए नींद आ जाए


Leave a Reply

Your email address will not be published.