New Poetry Two Lines – मोहब्बत की सुनसान राहों पर

मोहब्बत की सुनसान राहों पर,
अक्सर दिल बंजारा हो जाता है


Leave a Reply

Your email address will not be published.